भैंस के प्रसूतिकाल के रोग

भैंस के प्रसूतिकाल के रोग एवं उपचार : भैंस का प्रसूतिकाल प्रसव के बाद का वह समय है जिसमें मादा जननांग विशेष रूप से बच्चेदानी, शारीरिक व क्रियात्मक रूप से अपनी अगर्भित अवस्था में वापस आ जाती है। इसमें लगभग 45 दिन का समय लगता है। भैंस के प्रसूतिकाल के रोग  इस प्रकार है। जनननलिका, योनि अथवा […]

Continue reading

दुधारू पशुओं में प्रजनन

पशुओं में प्रजनन  की सफलता के लिए पशुपालकों को मादा पशु में पाए जाने वाले मद चक्र की प्रक्रिया को जानना बहुत ही आवश्यक है। गाय या भैंस सामान्य तौर पर हर १८ से २१ दिन के बाद गर्मी में आती है जो की पशुओं के शरीर का वज़न लगभग २५० किलो होने पर शुरू होता […]

Continue reading

गर्मी में मुर्गी पालन कैसे करें ?

गर्मी में मुर्गी पालन करने वालों के लिए आवश्यक है कि तापमान की तेजी से मुर्गियों को बचाया जाए, क्योंकि गर्मीं अधिक बढ़ने से मुर्गियों की मृत्यु दर बढ़ सकती है।मुर्गियों में अधिक मृत्यु दर होने से मुर्गीपालकों को भारी वित्तीय हानि उठानी पड़ सकती है।गर्मी के मौसम में थोड़ी सावधानी से मुर्गियों को तेज […]

Continue reading

पशुपालकों के सवाल और ग्रोवेल के डॉक्टर का जबाब – भाग २

पशुपालन और पशुओं के स्वस्थ्य से सम्बंधित सामान्य जानकारियां पशुपालकों के सवाल और ग्रोवेल के डॉक्टर का जबाब के इस भाग में ग्रोवेल के डॉक्टर के द्वारा दी जा रही हैं। हमारे पशुपालक भाई इन जानकारियों को अमल करके अपने पशुओं को काफी हद तक स्वस्थ्य और दुधारू बनाये रख सकतें हैं और अपने पशुपालन ब्यवसाय में अधिक […]

Continue reading

पशुपालकों के सवाल और ग्रोवेल के डॉक्टर का जबाब- भाग १

पशुपालकों के सवाल और ग्रोवेल के डॉक्टर का जबाब के इस भाग में पशु पोषण और पशुओं की बिमारियों से सम्बंधित पशुपालकों के सवालों का जबाब ग्रोवेल के डॉक्टर के द्वारा दी जा रही हैं। पशुपालक भाई ग्रोवेल के डॉक्टर द्वारा दी सलाह के अनुसार पशु पोषण करें और पशुओं को बीमारी से बचने का […]

Continue reading