ब्रॉयलर मुर्गीपालन कैसे करें ?

ब्रॉयलर मुर्गीपालन व्यवसाय मीट के उत्पादन के लिए किया जाता है। ऐसा देखा गया है कि ब्रॉयलर मुर्गीपालन यानि मुर्गे का उत्पादन अण्डा उत्पादन से लाभकारी है । इसकी सबसे बड़ी वजह यह है कि ब्रॉयलर मुर्गीपालन के लिए चूज़े 40-45 दिनों में तैयार हो जाते हैं जबकि अण्डा उत्पादन के लिए तैयार होने में […]

Continue reading