आधुनिक बकरी पालन कैसे करें ? वीडियो

बकरी पालन मुख्य रूप से मांस, दूध एवं रोंआ (पसमीना एवं मोहेर) के लिए किया जा सकता है। बकरियाँ अल्प आयु में वयस्क होकर दो वर्ष में कम से कम 3 बार बच्चों को जन्म देती हैं और एक वियान में 2-3 बच्चों को जन्म देती हैं। बकरियों से मांस, दूध, खाल एवं रोंआ के अतिरिक्त इसके मल-मूत्र से जमीन की उर्वरा शक्ति बढ़ती है। बकरियाँ प्रायः चारागाह पर निर्भर रहती हैं। यह झाड़ियाँ, जंगली घास तथा पेड़ के पत्तों को खाकर हमलोगों के लिए पौष्टिक पदार्थ जैसे मांस एवं दूध उत्पादित करती हैं।

बकरियों का पोषण केवल चारे और घास से नहीं हो पाता है ,इसलिए ग्रोवेल ने बकरियों के लिए विश्वविख्यात कुछ टॉनिक का उत्पादन करतें हैं , उसमें से है अमीनो पावर (Amino Power) और ग्रोलिव फोर्ट (Growlive Forte) । बस एक बार आप ग्रोवेल की बकरियों वजन बढाने की टॉनिक अमीनो पावर (Amino Power) और ग्रोलिव फोर्ट (Growlive Forte) प्रयोग करके तो देखें आप अच्चम्भित हो जायेंगें और आपका फायदा हो जायेगा दोगुना ! कृप्या आप इस लेख को भी पढ़ें बकरी पालन कैसे करें ?

अगर आप पशुपालन या बकरी पालन ब्यवसाय करतें हैं और अपने ब्यवसाय में अधिक से अधिक लाभ कमाना चाहतें हैं तो फेसबुकग्रुप लाभकारी मुर्गीपालन और पशुपालन कैसे करें?  का सदस्य बनें

Amino Power -cattle feed supplements ,cattle feed supplements, cattle growth promoterAmino Power

अमीनो पॉवर

It is an Unique Combination of 46 Powerful Amino Acids, Vitamins & Minerals .It is an strongest tonic for Goat & Sheep  for weight gain , immunity and overall health.

Download Literature.

liver tonic for poultry, horse liver tonic, cattle liver tonic, goat liver tonicGrowlive Forte
ग्रोलिव फोर्टBuy Now Growel Products.

A Double Power  Liver Tonic for Goat & Sheep to prevent  hepatic disorders – diseases, growth and better FCR.

Download Literature.

 

Click & Share This Page.
Share
Posted in Goat & Sheep Farming, Home, Pet Poultry & Cattle Video, पशुपालन और मुर्गीपालन and tagged , , , , , , .

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.